NTPC

नई दिल्ली । सार्वजनिक क्षेत्र की बिजली कंपनी एनटीपीसी ने शुक्रवार को कोयला खनन के लिए अलग कंपनी एनटीपीसी माइनिंग लिमिटेड के गठन की घोषणा की है। इससे एनटीपीसी का वाणिज्यिक कोयला खनन में कदम रखने का मार्ग प्रशस्त होगा। एनटीपीसी की कोयला अनुषंगी कंपनी को शेयर बाजार में सूचीबद्ध कराने की भी योजना है। कंपनी ने बंबई शेयर बाजार को बताया, ” एनटीपीसी ने ‘ एनटीपीसी माइनिंग लिमिटेड ‘ के नाम से 29 अगस्त 2019 को कंपनी रजिस्ट्रार, दिल्ली के पास अपनी पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी का गठन किया है। एनटीपीसी ने खनन कारोबार करने के लिए यह इकाई बनाई है। ” एक अधिकारी ने नाम सार्वजनिक नहीं करने की शर्त पर बताया कि एनटीपीसी की योजना एक कोयला अनुषंगी स्थापित करने की है। यह इकाई एनटीपीसी की सभी कोयला खदानों का परिचालन करेगी और एक कोयला कंपनी के रूप में काम करेगी। एनटीपीसी को अपनी ईंधन की जरूरतों को पूरा करने के लिए 10 कोयला खदान आवंटित किए गए हैं। पांच खदानों में परिचालन शुरू हो चुका है। नीति आयोग ने पिछले साल कोयला खनन कारोबार के लिए अलग अनुषंगी स्थापित करने की मंजूरी दी थी। हालांकि, कोयला मंत्रालय की ओर से अनुमति का इंतजार किया जा रहा था। अधिकारी ने कहा कि कोयला मंत्रालय के प्रस्ताव को मंजूरी देने के बाद से ही एनटीपीसी ने कोयला खनन कारोबार के लिए अलग इकाई स्थापित करने का काम शुरू कर दिया था। हालांकि, अधिकारी ने एनटीपीसी की कोयला खनन इकाई के शेयर बाजार पर सूचीबद्ध होने के संबंध में कोई जानकारी नहीं दी है।

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.