हांगकांग में पुलिस ने ट्राइड विरोधी

हांगकांग, 27 जुलाई । हांगकांग पुलिस ने चीन की सीमा के समीप पिछले सप्ताह लोकतंत्र समर्थकों पर हमला करने वाले संदिग्ध ट्राइड गैंग के विरूद्ध शनिवार को रैली निकाल रहे प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस के गोल दागे। इससे इस प्रमुख वित्तीय केन्द्र में अफरा तफरी और बढ़ गयी। सीमा के समीप येउन लोंग शहर में दंगारोधी पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर कई राउंड आंसू गैस के गोले दागे। पुलिस की प्रदर्शनकारियों के साथ भिड़ंत हो गयी और कुछ प्रदर्शनकारी पथराव कर रहे थे और उन्होंने एक पुलिस वाहन को घेर लिया। पिछले शनिवार को लाठी-डण्डों से लैस सफेट टी-शर्ट लोगों के एक गिरोह ने येउन लोंग स्टेशन पर सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों और वहां खड़े लोगों पर हमला किया था। तब से लोगों में गुस्सा बढ़ रहा है। यह दुस्साहसी हमला पिछले सात सप्ताह से जारी अप्रत्याशित राजनीतिक हिंसा को हवा देने वाला ताजा घटनाक्रम है। इस हमले में घायल हुए 45 लोगों को अस्पताल ले जाने की जरूरत पड़ी थी। इस हिंसा में किसी कमी का संकेत नहीं है क्योंकि चीन समर्थक पीछे हटने को तैयार नहीं हैं। रविवार की हिंसा पर कार्रवाई करने में ढिलाई बरतने को लेकर पुलिस आलोचना का शिकार हुई है। उस पर सरकार समर्थक भीड़ के साथ मिलीभगत या उसकी ओर आंख मूंद लेने का आरोप लगा है। पुलिस ने इस आरोप से इनकार किया है। हांगकांग हाल के इतिहास में सबसे बुरे संकट में फंस गया है। लाखों प्रदर्शनकारी सड़कों पर उतर रहे हैं तथा जगह जगह पुलिस और कट्टर प्रदर्शनकारियों के बीच हिंसक झड़पें हो रही हैं। यह प्रदर्शन उस विवादास्पद विधेयक के साथ शुरू हुआ जिसमें चीन में प्रत्यर्पण की अनुमति होगी। इसके बाद व्यापक लोकतांत्रिक सुधारों की मांग उठने लगी। येउन लोंग हांगकांग का एक ऐसा नया ग्रामीण क्षेत्र है जहां आसपास के कई गांवों के ट्राइड के साथ संबंध हैं तथा वे चीन समर्थक सत्ता प्रतिष्ठान के समर्थक हैं।

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.