gagan narang

नयी दिल्ली । ओलंपिक कांस्य पदक विजेता निशानेबाज गगन नारंग ने बुधवार को कहा कि भविष्य में हर स्तर पर कोचों के लिये द्रोणाचार्य पुरस्कार दिये जाने चाहिये क्योंकि प्रतिभाओं को तराशने वाले कोच भी समान पुरस्कारों के हकदार हैं। यहां राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार लेने आये नारंग ने कहा,‘‘ मेरा मानना है कि हर स्तर पर द्रोणाचार्य पुरस्कार होना चाहिये। जमीनी स्तर पर सर्वश्रेष्ठ कोच, उसके बाद के स्तर पर सर्वश्रेष्ठ कोच, सर्वश्रेष्ठ राष्ट्रीय कोच और विदेशी कोच।’’ उन्होंने कहा,‘‘ इस तरह से अच्छे कोच जमीनी स्तर से शीर्ष स्तर पर जाने को लालायित नहीं होंगे। हर स्तर पर समान पुरस्कार मिलने चाहिये ताकि जमीनी स्तर पर भी कोच देश के सर्वश्रेष्ठ जमीनी स्तर के कोच बनने की ख्वाहिश रखें।’’ नारंग ने कहा,‘‘ क्योंकि इन जमीनी स्तर के कोचों के बिना एलीट कोच कुछ नहीं कर सकते। इस तरह की व्यवस्था होनी चाहिये और सरकार इस दिशा में काम कर रही है।’’ अपने गगन नारंग स्पोटर्स प्रमोशन फाउंडेशन में भी वह कोचों के विकास के लिये कार्यक्रम शुरू करने जा रहे हैं। उन्होंने कहा,‘‘ हम इस साल से कोच विकास कार्यक्रम शुरू करेंगे जिसमें अलग अलग केंद्रों से कोचों को प्रशिक्षण के लिये पुणे बुलाया जायेगा। यह साल में दो या तीन बार होगा और हर साल दुनिया के अलग अलग हिस्सों से कोच को बुलाकर उन्हें प्रशिक्षण दिया जायेगा।’’

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.