om birla speaker

नई दिल्ली । लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला तथा राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने सोमवार को कहा कि सभी की आकांक्षा है कि सबसे विशाल लोकतंत्र का संसद भवन सबसे भव्य और सबसे आकर्षक बने, ऐसे में प्रधानमंत्री से आग्रह है कि भारत की आजादी के 2022 में 75 वर्ष पूरे होने पर नये भारत के उनके संकल्प में संसद भवन के विस्तार और आधुनिकीकरण को भी सम्मिलित किया जाए। लोकसभा में कार्यवाही शुरू होने पर स्पीकर ओम बिरला ने कहा कि भारतीय गणराज्य के सबसे बड़े मंदिर संसद भवन से, जो अपने 92 स्वर्णिम वर्ष पूरे कर चुका है, सभी राजनैतिक निर्णय लिए जाते हैं। उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता के बाद से अब तक लोकतंत्र के बढ़ते स्वरूप ने देश की इस सबसे पवित्र और महान धरोहर का उत्तरदायित्व भी बढ़ाया है और इससे देश की अपेक्षाओं का विस्तार भी हुआ है। लोकसभा अध्यक्ष ने कहा कि ऐसे में यह हम सबकी आकांक्षा है कि विश्व के सबसे बड़े गणराज्य और सबसे विशाल लोकतंत्र का संसद भवन सबसे भव्य और सबसे आकर्षक बने। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से आग्रह किया कि भारत की आजादी के 75 वर्ष 2022 तक पूरे होने पर नव भारत के उनके संकल्प में संसद भवन के विस्तार और आधुनिकीकरण को भी सम्मिलित किया जाए। उधर राज्यसभा में सभापति एम वेंकैया नायडू ने भारतीय गणराज्य के सबसे बड़े मंदिर संसद भवन के 92 वर्ष पूरे होने का जिक्र करते हुए कहा कि यहां से सभी राजनीतिक निर्णय लिए जाते हैं। उन्होंने कहा कि समय के साथ साथ इस महान धरोहर का उत्तरादायित्व बढ़ा और इसने जनआकांक्षाएं भी पूरी कीं। नायडू ने अनुरोध किया साल 2022 में देश की आजादी के 75 साल पूरे हो जाएंगे और इस अवसर पर संसद भवन का विस्तार तथा इसका आधुनिकीकरण भी किया जाना चाहिए ताकि देश के विकास के लिए और लोकतंत्र की मजबूती के लिए पूरे संकल्प के साथ काम करना और अधिक सुगम हो। उन्होंने आश्वासन दिया कि संसद भवन की गरिमा अक्षुण्ण बनाए रखने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.