बीजिंग,। जहरीले वायु प्रदूषकों के संपर्क में आने से होने वाली हृदय और सांस की बीमारियां मृत्यु दर में वृद्धि की वजह हैं। एक वैश्विक अध्ययन से यह जानकारी मिली है। चीन में फुदान विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के नेतृत्व में एक अध्ययन में 24 देशों और क्षेत्रों के 652 शहरों में वायु प्रदूषण और मौत के आंकड़ों का अध्ययन किया गया। उन्होंने पाया कि कुल मौतों में हो रही बढ़ोतरी प्रदूषक कण पीएम10 और सूक्ष्ण कण पीएम 2.5 से जुड़ी है, जो आग से निकलते है या वातावरण में रासायनिक परिवर्तन से बनते हैं। यह अध्ययन न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन में प्रकाशित हुआ है और होने वाली मौतों पर वायु प्रदूषण के अल्पकालिक प्रभावों का पता लगाने के लिये किया गया अब तक का सबसे बड़ा अध्ययन है। यह अध्ययन 30 वर्ष से ज्यादा समय में किया गया है।

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.