anup-vijay

मुंबई, 02 अगस्त। अनूप विजय की दूसरी ऑडियो किताब ज़ारी हुई, जिसका नाम ‘ ज़ीरो टू ब्रावो‘ रखा है। हिंदी का यह उपन्यास रॉ एजेंट की ज़िंदगी के इर्द गिर्द घूमता है। सच्ची कहानियों पर आधारित ‘ ज़ीरो टू ब्रावो‘ में मशहूर सर्जिकल स्ट्राइक से पहले के भारतीय इंटेलिजेंस ने जो कदम उठाये थे, उसकी काल्पनिक पहल को पिरोया है। संकल्प रस्तोगी की आवाज़ से सजी ज़ीरो टू ब्रावो में ऐसी असाधारण साहसी लड़की की कहानी है, जिसमें कोई अंजान उसे ट्रेनिंग देता है। कई तरह की इमोशनल और फिज़िकल मुसीबतों के बाद वह सफलता हासिल कर देश का नाम

रोशन करती है। एक बेहतरीन प्रेम कहानी के साथ ज़ीरो टू ब्रावो देश के प्रति जनून, देशभक्ति और प्यार से लबरेज़ है। कंस्लटेंट अनूप विजय कई सालों से क्रिएटिव इंडस्ट्री में काम कर रहे है। आर्मी बैकग्रांउड में जन्में व पले बढ़े अनूप को प्रेरणा अपने बचपन से ही मिली है। अनूप ने पिछले साल पहली ऑडियो बुक रोशन मीट्स रोशनी रिलीज़ की थी, जो बेहद सफल रही और स्टोरीटैल पर सबसे अधिक मांग वाली ईबुक्स की श्रेणी में थी।

रिलीज़ के समय बात करते हुये अनूप ने कहा, “ इस किताब को लिखने के पीछे आर्मी और रॉ के लोगों के प्रति मेरा प्यार है। वह जिस तरह के निस्वार्थ तरीके से काम करते है, उनके इतने बड़े समर्पण के लिये मेरी यह किताब उन्हें शुक्रिया कहने का छोटा सा तरीका है। मुझे लगता है कि आप चाहे उनके बारे में कितनी भी बात कर लें, वह हमेशा ही कम ही रह जाती है। बचपन में मैं कई आर्मी के लोगों से मिला था और मेरे परिवार के भी काफी दोस्त आर्मी से ही थे। मुझे उनकी ज़िंदगी हमेशा ही आकर्षित करती रही है और तब से मेरे मन में उनके लिये बहुत सम्मान रहा है। “

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.