लखनऊ: मध्य प्रदेश के राज्यपाल लालजी टंडन ने मंगलवार को 85 वर्ष की आयु में लखनऊ में अंतिम सांस ली है। टंडन कई दिनों से अस्पताल में भर्ती थे। इसकी जानकारी उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री और उनके पुत्र आशुतोष टंडन ने ट्विटर पर एक पोस्ट के माध्यम से साझा की। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा- “बाबूजी नहीं रहे।”

वहीं उत्तर प्रदेश सरकार ने तीन दिन का राजकीय शोक घोषित किया है। उनके निधन पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शोक व्यक्त किया है। उन्होंने उनके पुत्र आशुतोष टंडन से वार्ता कर अपनी शोक संवेदना व्यक्त की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि “लाल जी टंडन जी के निधन से देश ने एक लोकप्रिय जननेता, योग्य प्रशासक एवं प्रखर समाज सेवी को खोया है। उन्होंने ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शान्ति के लिए प्रार्थना करते हुए उनके शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।”

उधर, टंडन के निधन पर राज्य सरकार ने तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है। सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि राज्य सरकार ने 3 दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है। प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने टंडन के निधन पर अपना अयोध्या दौरा रद्द कर दिया है। उन्होंने उनके निधन पर दु:ख व्यक्त किया है।

उन्होंने ट्वीट कर कहा कि “भाजपा के वरिष्ठ नेता, प्रदेश सरकार में कई मंत्रालयों के मंत्री एवं पूर्व सांसद रहे, तीन पीढ़ी के लाखों कार्यकर्ताओं के प्रेरणा स्रोत व वर्तमान में मध्य प्रदेश के महामहिम राज्यपाल श्री लालजी टंडन जी के निधन का अत्यंत दुखद समाचार प्राप्त हुआ है।” उन्होंने आगे लिखा कि “आदरणीय बाबूजी का निधन हम सभी कार्यकर्ताओं के लिए व्यक्तिगत क्षति है जिसकी भरपाई नहीं हो सकती है। समय-समय पर बाबूजी मार्गदर्शन एवं नेतृत्व ने हम सभी को अभिभूत किया है। पार्टी ने अपने समर्पित सिपाही को खोया है। मैं पुण्यात्मा को अपनी विनम्र श्रद्घांजलि अर्पित करता हूँ और ईश्वर से प्रार्थना है कि पुण्यात्मा को अपने चरणों में स्थान दे तथा परिजनों व समर्थकों को यह दु:ख सहन करने की शक्ति प्रदान करें।”

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *