जौनपुर: विकास कार्यों और जनसमस्याओं को लेकर गंभीर उत्तर प्रदेश सरकार ने जिले में कर्तव्य के प्रति लापरवाही बरतने वाले 33 अधिकारियों को रेड कार्ड जारी किया है। जिला प्रशासन के सूत्रों ने रविवार को बताया कि कार्य के प्रति लापरवाह ऐसे 33 अधिकारियों पर कार्रवाई करते हुए अब रेड कार्ड जारी किया जा रहा है। उन्होने बताया कि शिकायतों के निस्तारण को गति देने व पारदर्शिता बरतने के लिए तमाम उपाय किये जा रहे हैं। साथ ही अधिकारियों पर कार्रवाई की जा रही है। इसमें अधिकारियों को लाल कागज पर चेतावनी जारी की जाती है। तीन बार गलती होने पर उनको लाल पत्र भेजा जाता है, चौथी बार गलती होने पर उनके विभागाध्यक्ष को कार्रवाई के लिए पत्र भेजा जायेगा। यह पत्र जिला प्रशासन की तरफ से भेजा जायेगा। ब जिन अधिकारियों को रेड कार्ड भेजा गया है, उनमें प्रतिकूल प्रविष्टि समाज कल्याण अधिकारी, एडीओ केराकत, एडीओ सुजानगंज को दी गई है।

तहसीलदार मछलीशहर, तहसीलदार शाहगंज, बीडीओ बक्शा, सीवीओ, पूर्ति निरीक्षक बदलापुर, बीडीओ सिरकोनी, बीडीओ बदलापुर, चकबंदी अधिकारी सदर, औषधि निरीक्षक, एसओ मछलीशहर को चेतावनी दी गई। तहसीलदार केराकत व एसडीएम मड़ियाहूं का वेतन रोका गया था। अपर जिलाधिकारी ( वित्त एवं राजस्व ) राम प्रकाश ने कहा कि जिलाधिकारी (डीएम) की पहल पर काम में लापरवाही व पारदर्शिता न बरतने वाले अधिकारियों को रेड कार्ड जारी किया जा रहा है।

यह लाल कागज पर लिखकर दिया जा रहा है। इसमें चेतावनी, प्रतिकूल प्रविष्टि, वेतन रोका जा रहा है। इसमें इसमें माध्यमिक शिक्षा के संयुक्त निदेशक, जफराबाद थानाध्यक्ष से लेकर सभी जिला स्तरीय अधिकारी, तहसील के एसडीएम, तहसीलदार, बीडीओ व ब्लाक स्तरीय अधिकारियों पर कार्रवाई की जाती है।

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.