मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री ने कोष में हेराफेरी के लिए बनाई थी ‘विस्तृत’ योजना : अभियोजक

कुआलालंपुर,। मलेशिया के पूर्व प्रधानमंत्री नजीब रजाक के खिलाफ भ्रष्टाचार का दूसरा मुकदमा शुरू हो गया है। मामले में एक अभियोजक ने आरोप लगाया कि 1एमडीबी राज्य निवेश कोष से रजाक ने एक ‘‘जटिल तंत्र’’ के जरिए अरबों डॉलर हड़प लिए। मुख्य अभियोजक गोपाल श्री राम ने कहा कि अभियोजन यह दिखाएगा कि रजाक ने 1एमडीबी कोष का पैसा किस तरह ‘‘चक्करदार तरीके’’ से अपने खातों में डलवाया। कोष के स्रोत का पता न चले, इसके लिए उन्होंने यह तक दिखाने का प्रयास किया कि संबंधित धन सऊदी अरब के एक शहजादे से कथित दान के रूप में मिला है। उन्होंने बुधवार को हाईकोर्ट से कहा कि अभियोजन मामले में रजाक और भगोड़ा लोव ताएक झो की मिलीभगत भी दिखाएगा। नजीब 1एमडीबी घोटाले में भ्रष्टाचार के 42 आरोपों का सामना कर रहे हैं। इसके चलते उन्हें पिछले साल चुनाव में हार का सामना करना पड़ा था।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *