मुख्यमंत्री के आदेशों का मेरठ में की जा रही है अवहेलना

संवाददाता, स्पेस प्रहरी

मेरठ I ईटों की अवैध मंडी पर एक बार फिर हंगामा हो गया जिसकी सूचना मिलने पर 112 नंबर पुलिस पहुंच गई और कई लोगों को हिरासत में लेकर जांच पड़ताल शुरू कर दी बताया गया है ग्राहक से पैसे लेकर ईटें नहीं पहुंचाई गई थी अवैध ईटों की मंडी से स्थानीय लोग  परेशान है

पूरा मामला ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र के लिसाड़ी रोड स्थित बीएस पैलेस के पीछे का है यहां अवैध रूप से ईटों की मंडी लगाई जाती है बताया जाता है इस मंडी में आने वाले ईट विक्रेताओं से पैसे लिए जाते हैं और कमीशन लेकर मंडी में ट्रैक्टर ट्रॉली को खड़ा कर लिया जाता है जिसके बाद ग्राहक को कमीशन लेकर ईट बेच दी जाती है यह ईटों की मंडी पूरे तरीके से अवैध है इस मंडी का कोई भी लाइसेंस नहीं होता जबकि यह मंडी इलाके में समय-समय पर हंगामा और बवाल कराने मैं भी शामिल रहती है बताया जाता है बीते 15 अगस्त को भी ट्रैक्टर चालक और मंडी संचालक में मारपीट हो गई थी और इससे पहले भी इस मंडी पर बवाल हुआ तो ब्रह्मपुरी पुलिस ने लोगों को हिरासत में लिया और मंडी को बंद करा दिया लेकिन अब एक बार फिर मंडी पूरी तरीके से फल-फूल रही है और अपने पूरे रूम पर है यहां एक बार फिर मेडिकल थाना क्षेत्र के रहने वाले ग्राहक से ₹5000 ले लिए गए लेकिन समय रहते उसको हिट नहीं पहुंचाई गई वह शुक्रवार को मंडी पहुंचा और जमकर हंगामा कर दिया इसकी सूचना डायल 112 को दी गई मौके पर पहुंची डायल 112 पुलिस के लोगों को लेकर चली गई हालांकि यह मंडी अभी भी अवैध रूप से संचालित है न जाने इस मंडी को फिलहाल पुलिस क्यों बंद नहीं करा रही है जबकि लॉयन ऑर्डर के एतबार से भी यह मंडी लोगों के लिए खतरा बनी है साथ ही जिन स्थानीय सड़कों को यहां पर उत्तर प्रदेश सरकार ने बनाया है उन सड़कों को तोड़ने कभी यह काम कर रही है देखा जाए तो उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेशों को भी यह मंडी ठेंगा दिखा रही है क्योंकि उत्तर प्रदेश सरकार के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्व में ही इस तरह के मठाधीश लोगों पर कार्रवाई करने अधिकारियों को चेतावनी दी थी जहां अधिकारियों ने काफी हद तक अवैध टैक्सी स्टैंड से लेकर अवैध कारोबार को खत्म नहीं कराया लेकिन अभी इस मंडी पर ना जाने पुलिस की नजर क्यों नहीं पड़ रही यह किस के इशारों पर चल रही है फिलहाल यही बड़ा सवाल है….

<script async src="https://pagead2.googlesyndication.com/pagead/js/adsbygoogle.js?client=ca-pub-3991958353818844"
     crossorigin="anonymous"></script>
<!-- SPPL1 -->
<ins class="adsbygoogle"
     style="display:block"
     data-ad-client="ca-pub-3991958353818844"
     data-ad-slot="2671173751"
     data-ad-format="auto"
     data-full-width-responsive="true"></ins>
<script>
     (adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});
</script>
Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.