नई दिल्ली, । कांग्रेस ने आईएनएक्स मीडिया मामले में पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम की गिरफ्तारी को लेकर बृहस्पतिवार को नरेंद्र मोदी सरकार पर तीखा हमला बोला और आरोप लगाया कि सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को विरोधी नेताओं से व्यक्तिगत बदला लेने वाले विभाग के तौर पर बदल दिया गया है। पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने यह भी आरोप लगाया कि ‘डूबती हुई अर्थव्यवस्था’ को लेकर सवाल खड़े करने की वजह से चिदंबरम को प्रताड़ित किया जा रहा है, जबकि उनके खिलाफ कोई साक्ष्य नहीं है। उन्होंने संवाददाताओं से कहा, ‘‘पिछले दो दिनों में पूरे देश ने प्रजातंत्र की दिन दहाड़े और कभी रात को भी हत्या होते देखी। मौजूदा भाजपा सरकार ने ईडी और सीबीआई को निजी बदला लेने वाले विभाग में तब्दील कर दिया है।’’ सुरजेवाला ने कहा, ‘‘ जिस पूर्वाग्रह और व्यक्तिगत बदला लेने की भावना से पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को गिरफ्तार किया गया है वह इस सरकार के व्यक्तिगत बदला लेने के लिए किसी भी हद तक गिर जाने का सबूत है।’’गौरतलब है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता चिदंबरम को सीबीआई ने नाटकीय घटनाक्रम के बाद बुधवार की रात गिरफ्तार कर लिया। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने एजेंसी के अतिथि गृह में रात गुजारी।सुरजेवाला ने कहा, ‘‘भाजपा की सरकार जब देश में भयंकर मंदी का हल निकालने में विफल साबित हुई, जब बड़ी संख्या में लोगों की नौकरियां जा रही हैं, जब हमारे रुपये का अवमूल्यन एशिया में सबसे ज्यादा हो रहा है और वह प्रधानमंत्री की आयु को भी पार कर गया है और जब ऑटो क्षेत्र मंदी की मार झेल रहा है तो ऐसे में देश का ध्यान बांटने के लिए एक नया स्वांग और ड्रामा रचा गया।’’उन्होंने यह भी दावा किया, ‘‘ भाजपा की दुष्प्रचार मशीन और कुछ मीडिया समूह कई तरह के मिथ्या प्रचार करने में लगे हैं।’’सुरजेवाला ने कहा, ‘‘ न तो पी चिदंबरम और न ही उनके बेटे के खिलाफ आईएनएक्स मीडिया मामले में कोई सबूत है। सिर्फ व्यक्तिगत बदले की भावना से सब कुछ हो रहा है।’’ उन्होंने कहा कि आईएनएक्स मीडिया मामले में कई आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया गया, लेकिन एक वरिष्ठ नेता को किसी कानूनी आधार के बिना गिरफ्तार कर लिया गया।सुरजेवाला ने दावा किया, ‘‘ चिदंबरम को प्रताड़ित करने और मीडिया ट्रायल करने के लिए उन्हें गिरफ्तार किया गया। क्या इस देश में यही न्याय रह गया है ?’’उन्होंने इंद्राणी मुखर्जी का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘एक अनुभवी नेता को उस महिला के बयान पर गिरफ्तार किया गया जो खुद इस मामले में आरोपी है और उस पर अपनी ही बेटी की हत्या का आरोप भी है।’’सुरजेवाला ने कहा, ‘‘चिदंबरम 40 साल से देश की सेवा कर रहे हैं। वह देश के वित्त मंत्री और गृह मंत्री रहे हैं। वह संसद के सदस्य हैं। उन्होंने हमेशा कानून का पालन किया है। उनके खिलाफ जांच एजेंसियां आरोप पत्र दाखिल नहीं कर पा रही हैं क्योंकि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया।’’उन्होंने कहा, ‘‘ चिदंबरम लगातार आगाह कर रहे थे कि देश की अर्थव्यवस्था गलत लोगों के हाथ में है। यही उनका अपराध है।’’सुरजेवाला ने कहा, ‘‘भारत की लूट में साथ देने वालों को भाजपा पवित्र मानती है और जो इसके खिलाफ आवाज उठाते हैं उन्हें भाजपा प्रताड़ित करती है।’’कांग्रेस प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि देश में हरेक को ‘‘चुप कराने’’ के लिए वरिष्ठ राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों पर ‘‘झूठे आरोप’’ लगाए जा रहे हैं।उन्होंने सवाल किया कि क्या देश की आर्थिक दुर्दशा पर चिदंबरम के आवाज उठाने को सरकार सहन नहीं कर पा रही थी?उन्होंने कहा कि कई ऐसे नेता, जिन पर गंभीर आरोप लगे और वो भाजपा में शामिल हो गए, तो वे दूध के धुले हो गए।

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.