indian share market

मुंबई । कमजोर वैश्विक संकेतों के बीच अगस्त श्रृंखला के वायदा कारोबार के समापन के चलते वित्तीय कंपनियों के शेयरों में बिकवाली से बृहस्पतिवार को बीएसई सेंसेक्स 383 अंक टूट गया। दिनभर के कारोबार में काफी अधिक उतार-चढ़ाव के बाद 30 शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 382.91 अंक यानी 1.02 प्रतिशत की गिरावट के साथ 37,068.93 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स एक समय 36,987.35 अंक तक नीचे लुढ़क गया था। इसी तरह एनएसई निफ्टी 97.80 अंक 0.89 फीसदी की गिरावट के साथ 10,948.30 अंक पर बंद हुआ। एसबीआई, एचडीएफसी, एक्सिस बैंक, कोटक बैंक, येस बैंक, आईटीसी, आरआईएल, एमएंडएम, टाटा मोटर्स और आईसीआईसीआई बैंक के शेयरों में गिरावट दर्ज की गयी। दूसरी ओर सन फार्मा, वेदांता, एनटीपीसी, ओएनजीसी, एशियन पेंट्स, इन्फोसिस और एचयूएल के शेयरों में 5.31 फीसदी तक की बढ़त देखने को मिली। विश्लेषकों का कहना है कि वैश्विक स्तर पर मंदी की चिंताओं के बीच वायदा एवं विकल्प खंड के साप्ताहिक एवं मासिक अनुबंधों के समापन के कारण घरेलू बाजार में उथल-पुथल देखने को मिली। अन्य एशियाई बाजारों की बात करें तो हांगकाग के हांगसेंग, दक्षिण कोरिया के कोस्पी एवं जापान के निक्की गिरावट के साथ जबकि चीन का शंघाई कम्पोजिट इंडेक्स बढ़त के साथ बंद हुआ। इसी बीच दिन के कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले भारतीय रुपया आंशिक रूप से मजबूत होकर 71.73 पर रहा। ब्रेंट कच्चे तेल का वायदा 0.03 प्रतिशत फिसलकर 59.91 डॉलर प्रति बैरल पर रहा।

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.