Jasprit bumra

किंगस्टन (जमैका) । भारत के गेंदबाजी कोच भरत अरूण को लगता है कि जसप्रीत बुमराह की हालात को भांपने की काबिलियत अद्भुत है और वेस्टइंडीज के खिलाफ शुरूआती टेस्ट में दूसरी पारी में उनका पांच विकेट चटकाना भारत के ‘तेज गेंदबाजी के सर्वश्रेष्ठ स्पैल’ में से एक था। बुमराह को विश्व कप के बाद एक महीने का ब्रेक दिया गया था। वह एंटीगा में पहली पारी के दौरान थोड़े धीमे दिखे थे लेकिन उन्होंने दूसरी पारी में वापसी करते हुए आठ ओवरों में सात रन देकर पांच विकेट हासिल किये जिससे भारत ने विश्व टेस्ट चैम्पियनिशप के शुरूआती मैच में वेस्टइंडीज को 318 रन से मात दी। अरूण ने यहां पत्रकारों से कहा, ‘‘बुमराह सोच समझकर गेंदबाजी करने वाला गेंदबाज है। वह हालात से वाफिक रहता है और अच्छी तरह सांमजस्य बिठा लेता है। अगर आप दूसरी पारी में उसकी लेंथ देखोगे तो उसे अच्छा मूवमेंट मिल रहा था।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैंने किसी भारतीय का लंबे समय बाद इस तरह का स्पैल देखा। यह तेज गेंदबाजी का सर्वश्रेष्ठ स्पैल था।’’ उन्होंने कहा कि कोच की प्राथमिकता यह सुनिश्चित करनी होती है कि रणनीति का कार्यान्वयन ‘परफेक्ट’ तरीके से हो क्योंकि फिर नतीजा अपने आप ही सही रहता है। बुमराह ने पहली पारी में 18 ओवर में पांच रन देकर एक विकेट प्राप्त किया था। अरूण ने कहा, ‘‘देखिये, विकेट तो नतीजा होता है लेकिन मैं हमेशा परिणाम को नहीं देखता। मैं कार्यान्वयन के हिस्से को अहम मानता हूं और पहली पारी के बाद बुमराह से इसी पर चर्चा हुई थी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘पहली पारी में उसका कार्यान्वयन थोड़ा कम रहा क्योंकि उसकी गेंदबाजी की शैली को देखते हुए उसे पिच करना चाहिए था। विकेट लेना चिंता की बात नहीं थी क्योंकि सही लाइन एवं लेंथ में गेंदबाजी करने की प्रक्रिया अंत में आपको विकेट दिलायेगी।’’ अरूण ने कहा, ‘‘वह लगातार 140 की रफ्तार से गेंदबाजी कर रहा है और उसका एक्शन इस तरह का है कि बल्लेबाज को यह समझने में थोड़ा समय लगता है कि वह क्या करने की कोशिश कर रहा है। लेकिन वह काफी सटीक है तो ज्यादा घातक हो जाता है। ’’

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.