electricity bijli

नयी दिल्ली । बिजली का औसत हाजिर मूल्य अगस्त महीने में 3.40 रुपये प्रति यूनिट के करीब रह सकता है। इसका कारण मांग में कमी के साथ खासकर पनबिजली और पवन ऊर्जा से अत्यधिक आपूर्ति है।बिजली क्षेत्र के एक विशेषज्ञ ने कहा, ‘‘बिजली का औसत हाजिर मूल्य अगस्त महीने में 3.40 रुपये प्रति यूनिट रहने का अनुमान है। इस महीने मांग में उल्लेखनीय कमी आयी है। इसके अलावा पनबिजली और पवन ऊर्जा (गुजरात और तमिलनाडु) से आपूर्ति बढ़ी है।’’विशेषज्ञ ने कहा, ‘‘आठ अगस्त को बिजली की अधिकतम मांग 1,58,000 मेगावाट रही। यह इस महीने 1,65,000 मेगावाट से अधिक नहीं जाएगी। जुलाई में बिजली की अधिकतम मांग 1,75,000 मेगावाट थी।’’मानसून के दौरान एयर कंडीशनर और कृषि (सिंचाई) के लिये बिजली की मांग कम हुई। इसका देश भर में बिजली की मांग पर असर हुआ है।नेशनल लोड डिस्पैच सेंटर के आंकड़ों के अनुसार अखिल भारतीय स्तर पर सर्वाधिक मांग 1,75,000 मेगावाट रही जो सालाना आधार पर 4 प्रतिशत अधिक है। वहीं अखिल भारतीय ऊर्जा आपूर्ति 117 अरब यूनिट रही जो सालाना आधार पर 6 प्रतिशत अधिक है। इंडियन एनर्जी एक्सचेंज में जुलाई महीने में औसत बिजली कीमत 2 प्रतिशत घटकर 3.38 रुपये इकाई रही। एक महीने पहले यह 3.46 रुपये यूनिट थी। विशेषज्ञ के अनुसार 11 अगस्त को आपूर्ति के लिये बिजली की न्यूनतम दर घटकर 10 अगस्त को 1.8 रुपये प्रति यूनिट पर आ गयी। यह स्पष्ट रूप से मांग में नरमी को अभिव्यक्त करता है।

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.