flipkart-walmart

नई दिल्ली । वालमार्ट के स्वामित्व वाली भारत की प्रमुख ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट ने कहा है कि वह अपनी पैकेजिंग श्रृंखला में विभिन्न पहलों के माध्यम से सिंगल यूज प्लास्टिक (केवल एक बार प्रयोग में लाकर फेंक दिए जाने वाले प्लास्टिक) के उपयोग में 25 प्रतिशत की कमी करने में सफल रही है। कंपनी ने बयान में कहा कि वह 30 प्रतिशत प्लास्टिक कचरा संग्रह का लक्ष्य लेकर चल रही है तथा मार्च, 2021 तक उसने अपनी सप्लाई चेन (आपूर्ति श्रृंखला) में शत प्रतिशत रिसाइकल्ड प्लास्टिक का उपयोग करने की दिशा में कदम बढ़ाया है। फ्लिपकार्ट ने कहा है कि वह कारोबार में दीर्घकालिक दृष्टि से स्वस्थ एवं पर्यावरण अनुकूल कदम उठा रही है। इस प्रतिबद्धता के तहत, फ्लिपकार्ट ने उत्पादक के विस्तारित दायित्वों (ईपीआर) का विवरण प्रस्तुत किया है जिसके तहत कंपनियां को सामान के उपभोग के बाद उसके कचरे के निस्तारण और पुनर्चक्रण आदि की बड़ी जिम्मेदारी दी जाती है। फ्लिपकार्ट के ग्रुप सीईओ कल्‍याण कृष्‍णामूर्ति ने बयान में कहा, ‘ हमारा मानना है कि कारोबार में पर्यावरण की दृष्टि से स्वस्थ्य तरीके न केवल हमारे पर्यावरण को सुरक्षित रखने में मदद करते हैं, बल्कि हमें सक्षम बनाते हैं और लंबा जीवन सुनिश्चित करते हैं। सिंगल यूज प्लास्टिक पैकेजिंग के विकल्प तैयार करना इस दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है।’’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस बार स्वतंत्रता दिवस संबोधन में नागरिकों से सिंगल यूज प्लास्टिक (एकल उपयोग वाले प्लास्टिक) के इस्तेमाल से बचने का आह्वान किया है। उन्होंने मन की बात कार्यक्रम में इस साल गांधीजी की 150वीं जयंती पर भारत को प्लास्टिक मुक्त करने की अपील की है तथा कंपनियों, नगर निकायों और गैरसरकारी संगठनों को दिवाली से पहले प्लास्टिक के जमा कचरे के सुरक्षित निस्तार के लिए कहा है।

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.