न्यूयॉर्क, अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए के पूर्व निदेशक जनरल डेविड पैट्रियास ने कहा है कि उन्हें ‘‘यकीन’’ है कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसियों को नहीं मालूम था कि ओसामा बिन लादेन पाकिस्तान में है। पैट्रियास ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के उस दावे के जवाब में यह टिप्पणी की जिसमें उन्होंने कहा था कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई ने 2011 में अल-कायदा सरगना लादेन का पता लगाने और उसे मारने में अमेरिका की मदद की थी। सोमवार को फॉक्स न्यूज को दिए साक्षात्कार में इमरान के इस बयान को अहम माना गया, क्योंकि पाकिस्तान अब तक इस बात से इनकार करता रहा है कि उसके पास अल-कायदा प्रमुख लादेन के ठिकाने के बारे में पहले से जानकारी थी। पाकिस्तान के ऐबटाबाद शहर में अमेरिकी नौसेना के सील कमांडो की टीम ने 2011 में एक अभियान में लादेन को मार गिराया था। बहरहाल, मंगलवार को यहां भारतीय वाणिज्य दूतावास में हिंद-प्रशांत क्षेत्र के विषय पर आयोजित एक परिचर्चा सत्र में पैट्रियास ने इस बात पर जोर दिया कि अमेरिका को यकीन है कि पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी को नहीं मालूम था कि लादेन उसके देश में छुपा हुआ है। उन्होंने कहा, ‘‘हमें पूरा यकीन है कि आईएसआई, पाकिस्तानी खुफिया तंत्र, किसी को नहीं पता था कि वह (लादेन) वहां (पाकिस्तान में) है। वे उसे शरण नहीं दे रहे थे या छुपा नहीं रहे थे। इस पर हमारी अच्छी समझ है। हम संभवत: उन लोगों से सहमत नहीं हैं जो कह रहे हैं कि पाकिस्तानी उसे ऐबटाबाद के उस खास परिसर में रहने दे रहे थे।’’

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.