अहमदाबाद,। केंद्रीय गृह मंत्री तथा भाजपा के अध्यक्ष अमित शाह ने पर्यावरण और स्वच्छता के लिए प्लास्टिक को सबसे बड़ी समस्या बताते हुए लोगों विशेष रूप से महिलाओं से इससे निपटने में सक्रिय भूमिका निभाने का आहवान किया।

श्री शाह ने आज यहां अहमदाबाद महानगरपालिका के मिशन मिलियन ट्री अभियान के समापन तथा इलेक्ट्रिक बस सेवा और बैटरी चार्जिंग स्टेशन के उद्घाटन के मौके पर आयोजित समारोह में कहा कि महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती पर हमने अपने घर, गांव और शहर को स्वच्छ रखने का संकल्प लिया है पर स्वच्छता और पर्यावरण रक्षा की राह में सबसे बड़ी समस्या प्लास्टिक है। स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री मोदी ने प्लास्टिक मुक्त भारत की कल्पना की है जिसे साकार करना होगा।

श्री शाह ने कहा कि हमे ऐसा काम नहीं करना चाहिए कि गायों के पेट में से दस दस किलो प्लास्टिक निकालना पड़े। इसकी जगह कपड़े का झोला इस्तेमाल करे जों दस साल तक काम आता है और प्लास्टिक से हमे बचाता है। अगर पृथ्वी की जीवनरेखा को बचाना है तो प्लास्टिक छोड़ कर कपड़े की थैली का इस्तेमाल होना चाहिए। मै विशेष रूप से महिलाओं से अपील करने आया हूं कि शाक सब्जी और किराने के सामान लेने के लिए कपड़े की थैली का ही इस्तेमाल करें। सरकार प्लास्टिक के रोकथाम के लिए अनेक उपाय कर रही है पर लोगों को भी इसके सक्रिय भागीदारी करनी चाहिए।

श्री शाह ने इस अवसर पर स्वच्छता समेत गांधी जी के सभी संदेशों को आज भी प्रासंगिक बताया। श्री शाह ने यह भी कहा जलवायु परिवर्तन की रोकथाम और जल संरक्षण के लिए नये मंत्रालय के गठन जैसे नरेन्द्र मोदी सरकार के कदमों की भी चर्चा इस मौके पर की। उन्होंने अपने गृह राज्य गुजरात में इस साल अच्छी बरसात होने पर खुशी जताते हुए कहा कि नर्मदा नदी पर बना सरदार सरोवर बांध जलाशय भी अगले माह तक पूरी तरह भर कर छलक जायेगा। उन्होंने अहमदाबाद में मिशन मिलियन ट्री अभियान के तहत शहर में 10 लाख 87 हजार और पूरे जिले में 24 लाख 60 हजार पेड़ लगाये जाने पर प्रसन्नता जताते हुए कहा कि यह पर्यावरण संरक्षण और प्रदूषण से निपटने के मामले में बहुत बड़ा कदम है।

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.