trump

न्यूयॉर्क । अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की चीन के सामानों पर अतिरिक्त शुल्क लगाने की घोषणा ने वैश्विक बाजारों को धराशायी कर दिया है। इसके कारण वाल स्ट्रीट लाल निशान में चला गया, कच्चे तेल में भारी गिरावट देखने को मिली और अमेरिका के सरकारी ऋणपत्रों से मिलने वाला वित्तीय प्रतिफल गिर गया। ट्रंप ने चीन के 300 अरब डॉलर के सामानों पर 10 प्रतिशत का अतरिक्त शुल्क लगाने की बृहस्पतिवार को घोषणा की। फेडरल रिजर्व द्वारा बुधवार को एक दशक से भी अधिक समय में पहली बार ब्याज दर घटाने के बाद बाजार पहले ही दबाव में था। ट्रंप की घोषणा ने निवेशकों की परेशानी और बढ़ा दी। अधिकांश अमेरिकी सूचकांक बृहस्पतिवार को कारोबार के दौरान एक प्रतिशत से अधिक तेजी में चल रहे थे। ट्रंप के ट्वीट के बाद स्थिति ठीक उलट हो गयी। घोषणा के बाद डाउ जोन्स इंडस्ट्रियल एवरेज 1.1 प्रतिशत गिर गया। खुदरा कंपनियों पर सबसे बुरा असर देखने को मिला। बेस्ट बाय 10.8 प्रतिशत, टारगेट 4.4 प्रतिशत और मैकीज 6.7 प्रतिशत लुढ़क गयी। अमेजन और वालमार्ट के शेयरों में भी गिरावट देखने को मिली। अमेरिका के सरकारी ऋणपत्रों से मिलने वाले वित्तीय प्रतिफल में भी गिरावट देखने को मिली। यह वृद्धि का परिदृश्य नरम होने का संकेत है। शुल्क की घोषणा के बाद कच्चे तेल में भारी गिरावट देखने को मिली। वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट 7.90 प्रतिशत गिरकर 53.95 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। यह फरवरी 2015 के बाद की सबसे बड़ी गिरावट है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.