ट्यूनिश, उत्तर अफ्रीकी देश ट्यूनीशिया के राष्ट्रपति बेजी काइद एस्सेबसी का बृहस्पतिवार को 92 साल की उम्र में निधन हो गया। वह देश में लोकतांत्रिक रूप से निर्वाचित पहले नेता थे। राष्ट्रपति कार्यालय ने यह जानकारी दी। सत्ता में बदलाव को लेकर ‘अरब स्प्रिंग’ नाम से चले आंदोलन के तीन साल बाद 2014 में वह सत्ता में आए थे। आंदोलन के कारण लंबे समय से सत्ता पर काबिज अल अब्दीनी बेन अली को पद छोड़ना पड़ा था। बदलाव की बयार चलने के बाद अरब के कई देशों में सत्ता परिवर्तन हुआ था। ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के बाद वह सबसे बुजुर्ग राष्ट्रप्रमुख थे। गंभीर रूप से बीमार पड़ने के बाद जून के अंतिम सप्ताह में उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था और बृहस्पतिवार को उन्हें सघन चिकित्सा इकाई (आईसीयू) में ले जाया गया।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.