बुलंदशहर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई के लिए किए गए जनता कर्फ्यू के आह्वान का असर पूरे देश में देखने को मिल रहा है। शनिवार के दिन भी न घरों से कोई बाहर निकला और न ही मोहल्लों में किसी प्रकार की आवाजें सुनाई दीं। यहां तक कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी लोग घर के अंदर ही डटे रहे और सामाजिक दूरी का पालन करते दिखाई दिए। बुलंदशहर जिले में भी जनता कर्फ्यू का व्यापक असर दिख रहा है। जिसमें प्रशासन की सख्ती के चलते लोगो ने भी स्वतः ही जनता कर्फ्यू सफल बनाने में काफी सहयोग करते नजर आ रहे हैं।  लोगों ने स्वेच्छा से स्वयं को घरों में कैद कर लिया है। 11 दिनों की पुलिस काम्बिंग व प्रशासन की सक्रियता व सख्ती होने की मुख्य वजह से छोटी-मोटी नोकझोक के चलते जनता कर्फ्यू जनपद में अभी तक सफल साबित रहा है। डीएम व एसएसपी ने शहर का लॉक डाउन सम्बन्धी हालचाल जाने और उसके बाद औचक निरीक्षण करने जिला कारागार को प्रस्थान हो गए। डीएम रविंद्र कुमार व एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने जिला कारागार का निरीक्षण कर कोरोना वायरस के संक्रमण के दृष्टिगत बचाव, क्या-क्या सावधानियां बरती जाए जैसी तैयारियों एवं जेल प्रशासन द्वारा उठाये गए अन्य आवश्यक उठाये गए कदमो की जानकारी ली।

डीएम रविंद्र कुमार ने जेल अधीक्षक को निर्देशित किया कि 500 से 1000 मास्क प्रतिदिन बंदियों द्वारा जिला कारागार में बनवाये जाएँ जिससे आम जनता को आगामी समय में मार्केट में किफायती दाम ₹10 के भाव मे बेचा जाएगा, इससे बंदियों को अतिरिक्त आमदनी होगी। 

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.