Congress Rahul Gandhi

जम्मू-कश्मीर भारत का आंतरिक मामला, हिंसा भड़का रहा है पाकिस्तान : राहुल (अपडेट)

नई दिल्ली,। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कश्मीर में हिंसा भड़काने एवं आतंकवाद का समर्थन करने को लेकर बुधवार को पाकिस्तान को खरी खरी सुनाते हुए दो टूक कहा कि कई मुद्दों पर नरेंद्र मोदी सरकार से असहमत होने के बावजूद वह यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि जम्मू-कश्मीर भारत का आंतरिक मामला है और पाकिस्तान या कोई दूसरा देश इसमें दखल नहीं दे सकता। राहुल ने ऐसे समय पर इस्लामाबाद पर तीखा हमला बोला जब पाकिस्तान सरकार ने जम्मू-कश्मीर के मामले पर संयुक्त राष्ट्र के समक्ष दी गई अपनी याचिका में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष के एक बयान का कथित तौर पर हवाला दिया है। इस संबंध में कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने भी पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा कि पाकिस्तान कितना भी झूठ और प्रपंच फैला ले लेकिन यह सच्चाई नहीं बदलने वाली है कि जम्मू-कश्मीर एवं लद्दाख भारत के अटूट अंग थे, हैं और हमेशा रहेंगे। गांधी ने ट्वीट कर कहा, “मैं कई मुद्दों पर सरकार से असहमत हूं। लेकिन यह बिल्कुल स्पष्ट करना चाहता हूं कि कश्मीर भारत का आंतरिक मुद्दा है और पाकिस्तान या किसी अन्य देश के लिए इसमें दखल देने की कोई गुंजाइश नहीं है।” उन्होंने कहा, ”जम्मू-कश्मीर में हिंसा है और यह हिंसा पाकिस्तान द्वारा भड़काने और समर्थन देने की वजह से है। पाकिस्तान पूरी दुनिया में आतंकवाद के समर्थक के रूप में जाना जाता है।” पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक बयान में कहा, ‘‘कांग्रेस ने उन खबरों का संज्ञान लिया गया है जिनमें यह कहा गया है कि पाकिस्तान की ओर से जम्मू-कश्मीर पर संयुक्त राष्ट्र में दायर कथित याचिका में राहुल गांधी का नाम शरारतपूर्ण ढंग से लिया गया है ताकि पाकिस्तान के झूठ के पुलिंदे और गलत सूचनाओं को सही ठहराया जा सके।” उन्होंने कहा कि दुनिया में किसी को भी इसमें संदेह नहीं होना चाहिए कि जम्मू, कश्मीर और लद्दाख भारत का अभिन्न हिस्सा थे, हैं और सदा रहेंगे। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान की ओर से कितनी भी भ्रांति फैला दी जाए, लेकिन यह अकाट्य सच बदलने वाला नहीं है। कांग्रेस प्रवक्ता ने पाकिस्तान पर निशाना साधते हुए कहा, ”पाकिस्तान को चाहिए कि वह दुनिया को पीओके-गिलगित- बाल्टिस्तान में मानवाधिकार के घोर उल्लंघन के बारे में जवाब दे। पाकिस्तान को सात करोड़ मुहाजिरों के उत्पीड़न और पाकिस्तानी सुरक्षा बलों द्वारा 25 हजार लोगों की हत्या किए जाने पर जवाब देना चाहिए।” सुरजेवाला ने कहा कि पाकिस्तान को बलूचिस्तान में मानवाधिकार का उल्लंघन करने, हजारों लोगों के गायब होने और सामूहिक कब्रें मिलने के बारे में भी जवाब देना होगा। उन्होंने कहा कि दुनिया को एक बार फिर से याद दिलाने की जरूरत है कि लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मुहम्मद, हिजबुल मुजाहिदीन, अल कायदा और तालिबान जैसे आतंकी संगठनों को पाकिस्तान में ही फलने-फूलने का मौका मिला है। कांग्रेस नेता ने कहा कि कश्मीर का राग अलापने की बजाय पाकिस्तान को इन मुद्दों पर पूरी दुनिया को जवाब देना चाहिए।खबरों के मुताबिक, पाकिस्तान ने राहुल गांधी के जिस बयान का कथित तौर पर हवाला दिया है वह बयान उन्होंने पिछले दिनों विपक्षी नेताओं को श्रीनगर हवाई अड्डे से वापस दिल्ली भेजे जाने के संदर्भ में दिया था। गत रविवार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक ट्वीट कर कहा है, ‘‘जम्मू-कश्मीर के लोगों की स्वतंत्रता और नागरिकों की आजादी पर अंकुश लगाए हुए 20 दिन हो गए हैं। विपक्ष और मीडिया को तब जम्मू-कश्मीर के लोगों पर किए जा रहे बल प्रयोग और प्रशासनिक क्रूरता का अहसास हुआ, जब उन्होंने शनिवार को श्रीनगर का दौरा करने की कोशिश की।’’ दरअसल, गांधी पिछले कई दिनों से जम्मू-कश्मीर के मामले को लेकर सरकार पर हमले कर रहे थे। उनका आरोप रहा है कि अनुच्छेद 370 के कई प्रावधान हटाने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांटने का कदम असंवैधानिक तरीके से उठाया गया है। पिछले दिनों गांधी विपक्ष के कई नेताओं के साथ कश्मीर जा रहे थे लेकिन उन्हें श्रीनगर हवाई अड्डे पर ही रोक कर दिल्ली वापस भेज दिया गया था।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *