• लोगों की सतर्कता से होगी बुजुर्गों और पूरे परिवार की सुरक्षा
  • जिले में इमरजेंसी स्वास्थ्य सेवा, दस्तक अभियान और सर्विलांस सेवा जारी

बुलंदशहर : जिलाधिकारी रविंद्र कुमार ने लोगों से अपील की है कि देश के प्रधानमंत्री की अपील पर रविवार को जनता कर्फ्यू में सभी सहयोग करें। अगर इस कर्फ्यू को सफल बनाया गया तो जनपद को कोरोना से सुरक्षित किया जा सकेगा। एक दिन के लिए घर से न निकल कर बीमारी से बचाव में सभी लोग बड़ा योगदान दे सकते हैं। वहीं, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. केएन तिवारी ने कहा है कि लोगों की सतर्कता से न केवल उनकी बल्कि पूरे परिवार की सुरक्षा होगी और खासतौर से बुजुर्ग और बीमार लोगों की जान का खतरा टल जाएगा। उन्होंने बताया कि जिले में इमरजेंसी स्वास्थ्य सेवा, दस्तक अभियान और सर्विलांस सेवा जारी है। बाकी सभी कार्यक्रम स्थगित कर दिये गये हैं। सीएमओ ने अपील की कि दस्तक अभियान के दौरान जब आशा कार्यकर्ता व आंगनबाड़ी कार्यकर्ता कोरोना के बारे में जानकारी दें तो उसे गंभीरता से सुनें और अमल करें। उन्होंने आपद परिस्थिति में काम करे सभी स्वास्थ्यकर्मियों की भूमिका को सराहा और कहा कि समुदाय को भी इन लोगों का हर तरह से सहयोग करना चाहिए। सीएमओ ने बताया कि कोरोना संक्रमण से मौत का चलन ज्यादातर उन्हीं में देखा गया है जो पहले से रोगग्रस्त हैं, उम्र दराज हैं, कम प्रतिरोधक क्षमता वाले हैं या फिर बुजुर्ग हैं। कोविड-19 एक ऐसा संक्रमण है जो सीधे संपर्क में आने या किसी संक्रमिक व्यक्ति या वस्तु के संपर्क में आने से फैलता है और यह संक्रमण श्वसन तंत्र को प्रभावित करता है। मुख्यचिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डा. केएन तिवारी ने कहा है कि इस बीमारी में सबसे अधिक चिंतित करने वाला कारक इसका प्रसार दर है जो काफी अधिक है। बीमारी का प्रसार रोकने का सबसे अच्छा तरीका है कि लोग एक दूसरे के संपर्क में कम से कम आएं, अनावश्यक भीड़भाड़ वाली जगह पर न जाएं, हाथों को मुंह, नाक या आंख पर न ले जाएं, सैनिटाइजर का प्रयोग करें या हाथों को समय-समय पर साबुन से धुलते रहें। उन्होंने कहा कि जनता कर्फ्यू जैसी पहल से कोरोना के प्रसार को रोकने में काफी मदद मिलेगी। धुम्रपान का सेवन न करने की भी सीएमओ ने अपील की। उन्होंने बताया कोरोना से बचाव के लिए जिला अस्पताल में 15, सिकंदराबाद 20, खुर्जा 12 बेड का आइसोलेशन वार्ड बना गए हैं। डा. तिवारी ने बताया कि जिले में अभी तक 90 व्यक्ति बाहर से या बाहर से आए लोगों से संपर्क में आये हैं जिनमें से 44 लोगों का 28 लोगों का सर्विलांस पूरा किया जा चुका है। जनपद में फिलहाल 46 लोगों का 28 दिन का फालो-अप सर्विलांस चल है। यह सभी पूरी तरह से स्वस्थ हैं। जनपद के जिला अस्पताल फोन कॉल कंट्रोल रूप स्थापित है। जिसमें करने के लिए टीमें लगायी गयी हैं। साथ ही लोगों से अपील की कि वह किसी भी प्रकार के अफवाह का हिस्सा न बनें। जिले में स्थिति सामान्य है और चिंता की कोई बात नहीं है।

सावधानी ही बचाव…..

एक दूसरे से एक मीटर की दूरी पर रहें।

खांसते, छींकते समय रूमाल या टीश्यू पेपर का इस्तेमाल करें।

कोई शंका हो तो जिले में बने कंट्रोल रूम के नंबर 7839791647 पर सम्पर्क करें।

प्रदेश सरकार के हेल्पलाइन नंबर 18001805145 पर भी संपर्क कर सकते हैं।

शंका समाधान के लिए केंद्रीय हेल्पलाइन नंबर 011-23978046 पर भी फोन कर सकते हैं।

भीड़भाड़ से बचें और बहुत आवश्यक न हो तो घर में ही रहें।

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.