Walmart farmer

नई दिल्ली । खुदरा कारोबार करने वाली वालमार्ट की इकाई वालमार्ट फाउंडेशन ने छोटे किसानों की मदद के लिये 48 लाख डॉलर (करीब 34 करोड़ रुपये) का अनुदान देने की घोषणा की है। यह राशि छोटे जोत वाले किसानों को कृषि प्रौद्योगिकी तक पहुंच बनाने, खेती-बाड़ी की सतत गतिविधियों के बारे में प्रशिक्षण जैसे कार्यों के लिये दी गयी है। वालमार्ट फाउंडेशन की अध्यक्ष और ईवीपी (कार्यकारी उपाध्यक्ष) कैथलीन मैक्लॉफलीन ने मंगलवार को यहां एक कार्यक्रम में कहा कि 48 लाख डॉलर का अनुदान दो कंपनियों…डिजिटल ग्रीन और टेक्नो सर्व को दी जाएगी। ये दोनों कंपनियां छोटे जोत वाले किसानों को कृषि प्रौद्योगिकी तक पहुंच बनाने, खेती-बाड़ी की सतत गतिविधियों के बारे में प्रशिक्षण, संगठित बाजारों तक बेहतर पहुंच और किसान उत्पादक संगठनों (एफपीओ) की कौशल तथा क्षमता विकास में मदद के लिये दी गयी है। कंपनी के बयान के अनुसार यह अनुदान वालमार्ट फाउंडेशन द्वारा पिछले साल सितंबर में घोषित 2.5 करोड़ डॉलर (180 करोड़ रुपये) की सहायता का हिस्सा है। कंपनी ने किसानों की आजीविका में सुधार लाने के लिये अगले पांच साल में 180 करोड़ रुपये की सहायता उपलब्ध कराने की घोषणा की थी। इस घोषणा के साथ वालमार्ट फाउंडेशन 2.5 करोड़ डॉलर में से एक करोड़ डालर का योगदान कर चुका है। इससे आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और उत्तर प्रदेश के 81,000 से अधिक किसानों को पर सकारातमक प्रभाव पड़ने की उम्मीद है। वालमार्ट इंडिया ने 2023 तक अपनी दुकानों में बिकने वाले 25 प्रतिशत उत्पाद छोटे किसानों से सीधे खरीदने की भी घोषणा की है।

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.