वाराणसी: उत्तर प्रदेश के वाराणसी में 55 साल के व्यक्ति को बीएचयू में स्थित सर सुंदर लाल अस्पताल के आइसोलेशन वॉर्ड में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान 3 अप्रैल को उसकी मौत हो गई थी। रविवार को उसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है। इस कारण एहतियात के तौर पर कुछ स्थानों पर कर्फ्यू लगा दिया गया है।

जिला अधिकारी कौशल राज शर्मा ने बताया कि “शहर के भेलूपुर थाना क्षेत्र के बजरडीहा, दशाश्वमेध के मदनपुरा, रोहनिया के गंगापुर और लोहता में कर्फ्यू लगा दिया गया। जिनके घरों में लोग संक्रमित मिले हैं, उनकी जांच के अलावा जिनके सम्पर्क में आये हैं उनकी भी जांच की जा रही है। अब कर्फ्यू वाले इलाकों में सिर्फ प्रशासनिक गतिविधि ही होगी। इसके अलावा जो भी लापरवाही करेगा उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।”

उन्होंने बताया कि इन इलाकों में कोरोना पॉजिटिव मरीज पाए गए हैं। मृतक के परिवार के सभी 10 सदस्यों को छोड़ दिया गया है और उनके नमूने परीक्षण के लिए भेजे गए हैं। डीएम ने बताया कि, “गंगापुर निवासी को जुकाम और सांस लेने में दिक्कत के कारण 27 मार्च को निजी डाक्टरों को दिखाया गया था, आराम न मिलने पर वह सर सुन्दर लाल अस्पताल में भर्ती हुए थे। सैम्पल जांच के लिए भेजे गये थे। हालत बिगड़ने पर उन्हें आईसीयू में भर्ती कराया गया। जहां देर रात उनकी मौत हो गयी। सुबह कोरोना पॉजटिव र्पिोट आने पर एहतियातन इलाके को तत्काल प्रभाव से सील कर दिया गया है।”

प्रमुख सचिव स्वास्थ्य और परिवार कल्याण अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि “राज्य में कोरोना वायरस से संबधित मौत का यह तीसरा मामला है।” ज्ञात हो कि इससे पहले प्रदेश में 30 मार्च को 25 वर्षीय युवक की मौत हो चुकी है। मृत्यु के बाद आई रिपोर्ट में वह कोरोना पॉजीटिव था। इसके अलावा दूसरी मौत मेरठ में एक 72 वर्षीय युवक की हो चुकी है। उनकी रिपोर्ट में भी कोरोना पॉजीटिव था।

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.