कानपुर, शहर में एक चौंकाने वाली घटना में किराने की दुकान के मालिक
का शव एक घर में फ्रीजर में मिला। शव पर चोट के निशान थे। बिधनू थाना पुलिस को मकान के
अंदर खून के धब्बे भी मिले हैं। घर से कीमती सामान भी गायब है। मृतक के परिजनों ने एक
महिला पर शक जताया है।
एसपी (बाहरी) तेज स्वरूप सिंह व एएसपी बृजेंद्र द्विवेदी ने बताया कि कुबेर सिंह (58) बिधनू के
खड़ेसर गांव में अकेले रहते थे। करीब 15 साल पहले उनकी पत्नी सुनीता ने आत्महत्या कर ली थी।
पत्नी की मौत के बाद वह अपनी बेटी रेखा को लेकर कानपुर के काकादेव में रहने चले गए। आठ
साल पहले बेटी की शादी आगरा में कर दी। फिर किराना की दुकान खोल ली।
घटना का पता तब चला जब आगरा में रहने वाली उसकी बेटी रेखा ने अपने मौसेरे भाई सुरेश को
गांव जाकर पिता का हाल लेने को कहा। सुरेश खदेसर गांव पहुंचे तो घर में ताला लगा मिला।
दरवाजा नहीं खुला तो पड़ोसियों को सूचना दी।
पड़ोसियों ने उसे बताया कि तीन-चार दिनों से कुबेर को नहीं देखा है, सुरेश पड़ोसियों की मदद से घर
के अंदर गया, जहां खून के निशान देखकर वह चौंक गया। फिर वह पड़ोसियों के साथ घर के एक
हिस्से में स्थित किराने की दुकान पर पहुंचा जहां डीप फ्रीजर में कुबेर का शव पड़ा मिला। एसपी ने
बताया कि मामले की जांच की जा रही है और कुछ लोगों से पूछताछ भी की जा रही है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.