लंदन, । ऑस्ट्रिया में एक हवाई अड्डे पर एक सिख मानवाधिकार कार्यकर्ता पर कथित रूप से नस्लीय हमला करने का मामला सामने आया है। हवाई अड्डे पर तैनात महिला सुरक्षा अधिकारी द्वारा कार्यकर्ता की पगड़ी में बम मिलने को लेकर मजाक किए जाने के बाद यह घटना हुयी। एक मीडिया रिपोर्ट में यह बात कही गई है। ‘मेट्रो’ समाचारपत्र के अनुसार रवि सिंह इराक में आईएसआईएस द्वारा बंधक बनाई गई यजीदी महिलाओं की मदद करने के बाद शुक्रवार को ब्रिटेन लौट रहे थे। इस दौरान उनकी विएना अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर एक कर्मचारी से कहासुनी हो गई। रिपोर्ट के अनुसार ‘खालसा एड’ के संस्थापक रवि हवाई अड्डे पर विमान बदल रहे थे। उस समय उन्होंने सुरक्षा कर्मचारियों पगड़ी की तलाशी लेने दी। वह बिना किसी दिक्कत के ‘मेटर डिटेक्टर’ (जांच का यंत्र) से गुजर गए, लेकिन एक कर्मचारी ने हाथ में थामे यंत्र से उनकी पगड़ी की जांच करने को कहा। रवि ने जब पूछा कि कोई दिक्कत है क्या, तो एक महिला सुरक्षाकर्मी ने कहा: “हां, हमें बम मिला है।”उन्होंने कहा कि जब उन्होंने पहली बार टिप्पणी की वह “मुस्कुरा” रही थीं, लेकिन जब उन्होंने उन्हें चुनौती दी तो वह “बहुत परेशान” हुईं और उनका चेहरा शर्मिंदगी से लाल हो गया। इसके बाद रवि ने महिला सुरक्षाकर्मी से तुरंत माफी मांगने को कहा, लेकिन सुरक्षाकर्मी ने माफी मानने से इनकार कर दिया। सिंह ने कहा, ‘‘ अगर बम रखे होने संबंधी टिप्पणी मैंने की होती तो मुझे जेल में डाल दिया जाता ।’’हालांकि विएना हवाई अड्डे के एक प्रवक्ता ने रवि को ट्विटर पर जवाब देते हुए कहा कि वे घटना की जांच कर रहे हैं। उन्होंने कहा, “हम घटना के लिये माफी मांगते हैं । यह ग्राहकों के साथ बर्ताव की हमारी नीतियों के अनुसार नहीं है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.