मिस्टर अहमद

हमें यह बताते हुए बड़ी खुशी हो रही है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एकरा के नौजवानों को कामयाब बनाने के लिए काफी मेहनत की जा रही है।

नौजवानों को बिजनेस में विशेष बनाने के लिए और उनके अंदर बिजनेस की विशेषताओं को पैदा करने के लिए एकरा के नेशनल थिएटर के अंदर एक अंतरराष्ट्रीय एंटरप्रेन्योरशिप की सम्मिट आयोजन की गई।

आपको बता दें कि इस कार्यक्रम का संयोजन मलेशियाई आधारित ऑर्गेनाइजेशन ने किया था। जिसके अंदर दुनिया भर से आये उद्यमियों ने शिरकत की |

इसमें शाबा एंटरप्राइज़ के सीईओ सेठ अद्जेई बाह और नकॉकॉ के पूर्व सांसद, वोल्टा बिजनेस फोरम के अध्यक्ष डॉ प्रिंस कोफी क्लुडजेसन जैसे वक्ता भी थे।

इसी के साथ 28 के फाउंडर बिलाल अहमद भट का कहना है की “हम उन युवा उद्यमियों की मदद करने के लिए बिल्कुल तैयार है जो अपने व्यवसाय को अंतरराष्ट्रीय बाजार में ले जाने के लिए मदद चाहते है”।

बता दें कि यह पहला एडिशन था जो अफ़्रीका के अंदर आयोजित किया गया और इस एडिशन का मकसद था कि अफ्रीका के टैलेंटेड एंटरटेनर्स को नेटवर्क और ब्रांड में ढालना ।

कार्यक्रम के दौरान बोलते हुए संगठन के देश प्रतिनिधि, डॉ विक्टोरिया एसिनु विताशी ने जवान एंटरटेनर्स पर आरोप लगाया कि वह अपने उद्देश्यों को आगे बढ़ाने के लिए टेक्नोलॉजी का एडवांस इस्तेमाल करते है।


हालांकि उन्होंने अपनी बात को साबित करने के लिए एक उदाहरण भी दिया। कुछ लोग ऐसी गतिविधियों में संलग्न हो जाते हैं जिसमे वे लास्ट में आकर टाइम और रिसोर्सेज दोनों को ही बर्बाद करते है।

उनके अनुसार बुरे वक्त के अंदर भी लोगों के पास कामयाब होने के लिए कई सारे मौके होते हैं व कोविड-19 और अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक संकट जैसी भी कठिन हालात के अंदर भी लोगों के पास मौके हैं।

उन्होंने इसी के साथ कहा कि सरकार को निवेशकों के लिए मौके पैदा करने के लिए अपनी विचारधारा बदलनी चाहिए , उन्होंने कहा कि संगठन दुनिया भर के निवेशकों और उद्यमियों का एक नेटवर्क है।

डॉ विताशी ने सरकार से कुछ ऐसी नीतियों की समीक्षा करने का आग्रह किया है जो घानावासियों के लिए आर्थिक कठिनाई लाने की क्षमता रखती हैं।

इसी के साथ उन्होंने 28COE संगठन का खुलासा करते हुए बताया कि 28COE ऐसा गतिशील संगठन है , जिसे अंतर्राष्ट्रीय माध्यम से भी समर्थन मिला है। और जो 85 से अधिक देशों में उद्यमियों और पेशेवरों का सबसे बड़ा समुदाय है।

28 क्रेडेंशियल ऑफ एंटरप्रेन्योर्स के संस्थापक बिलाल अहमद भट जो घाना के प्राकृतिक संसाधनों से अभिभूत थे, ने सलाह और शिक्षा के माध्यम से घाना में निवेश करने के लिए अपने संगठन की इच्छा व्यक्त की है।

इसी के साथ बिलाल अहमद भट का कहना है की हम उन युवा उद्यमियों की मदद करने के लिए बिल्कुल तैयार है जो अपने व्यवसाय को अंतरराष्ट्रीय बाजार में ले जाने के लिए मदद चाहते है।

उन्होंने कहा कि 28COE उन लोगों के लिए एक अंतरराष्ट्रीय मंच है जो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपने व्यवसाय और ब्रांड को विकसित करने के अवसरों की तलाश कर रहे हैं।

मिस्टर अहमद ने कहा कि उनका संगठन युवा प्रतिभाओं की तलाश करने के लिए कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में मार्गदर्शन, परामर्श और कई स्टार्ट अप स्थापित करेगा जो खेती में हैं और उन्हें अच्छे किसान बनने और सर्वोत्तम फसलों का उत्पादन करने और उन्हें अंतरराष्ट्रीय बाजार के लिए पैकेज करने के लिए सिखाएंगे।

इस उद्देश्य को प्राप्त करने के लिए संगठन घाना के व्यवसायों को उस मंच पर रखने के लिए ग्लोबल घाना चैंबर के रूप में जाना जाने वाला एक मंच स्थापित करेगा ताकि उन्हें एक एक्सपोजर दिया जा सके।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.