नई दिल्ली/विशाखापट्टनम, । कश्मीर को लेकर जारी भारत-पाकिस्तान तनाव के बीच उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने बड़ा बयान दिया है। उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने पीओके (गुलाम कश्मीर) का मसला उठाया है। वेंकैया नायडू ने कहा है कि अब पाकिस्तान से सिर्फ पीओके (गुलाम कश्मीर) पर बात होगी। उन्होंने कश्मीर को भारत का अभिन्न अंग बताया है, साथ ही उन्होंने कहा है कि हम युद्ध नहीं चाहते है, हम एक शांतिप्रिय राष्ट्र हैं।

विशाखापत्तनम में नौसेना विज्ञान और प्रौद्योगिकी प्रयोगशाला के स्वर्ण जयंती समारोह को संबोधित करते हुए उपराष्ट्रपति ने यह बातें कहीं। इससे पहले गृह मंत्री अमित शाह और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी पाकिस्तान को ऐसे ही लहजे में जवाब दिया है।रक्षा मंत्री  राजनाथ सिंह ने भी पाकिस्तान से सिर्फ पीओके पर बातचीत की बात कही थी।

विशाखापट्टनम स्थित नेवल साइंस एंड टेक्नोलॉजी लेबोरेट्री (एनएसटीएल) के गोल्डन जुबली समारोह को संबोधित करते हुए कहा, ‘हम किसी पर हमला नहीं करते, लेकिन जो हम पर हमला करेगा, हम उसे मुंहतोड़ जवाब देंगे, हम युद्धोन्मादी नहीं हैं। ना हम किसी के मामले में दखल देते हैं और ना चाहते हैं हमारे आंतरिक मामले में दखल हो।’ उपराष्ट्रपति ने दो टूक कहा कि कश्मीर हमारा आंतरिक मामला है।

दरअसल, रक्षा मत्री राजनाथ सिंह ने हरियाणा में एक जनसभा में जम्मू और कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 को निरस्त किए जाने का जिक्र कर रहे थे। राजनाथ सिंह ने कहा कि हमारे पड़ोसी अंतर्राष्ट्रीय समुदाय का दरवाजा खटखटाते हुए कह रहे हैं कि भारत ने गलती की है। गृह मंत्री अमित शाह ने संसद में कहा था कि पीओके और अक्साई चीन कश्मीर का हिस्सा हैं। इस दौरान उन्होंने कहा कि अगर पाकिस्तान के साथ बातचीत होती है, तो वह अब पीओके पर ही होगी।

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.