उत्तर मध्य रेलवे अपने कर्मचारियों और उनके परिवारों के लिये बना रहा है मास्क और सैनेटाइजर

लखनऊ: उत्तर मध्य रेलवे अपने कर्मचारियों और उनके परिवारों को कोरोना वायरस संक्रमण से बचाने के लिये अपने मंडल कारखाने में मास्क और सैनेटाइजर बनवा रहा है और उन्हें नि:शुल्क वितरित किया जा रहा है। उत्तर मध्य रेलवे (एनसीआर) के जनसंपर्क अधिकारी अमित मालवीय ने मंगलवार को कहा, ”अभी तक एनसीआर के पांच कारखानों में 61,400 मास्क बनाये जा चुके हैं और इसके अलावा 4,762 लीटर सैनेटाइजर बनाया गया है। इन्हें रेलवे कर्मचारियों और उनके परिवारों को नि:शुल्क वितरित किया गया है।” उन्होंने बताया कि मास्क बनाने का काम रोजाना जारी है और प्रत्येक कारखाना इस काम में योगदान दे रहा है। इस काम में प्रयागराज, झांसी, आगरा, झांसी वैगन रिपेयर कारखाना और कोच मिडलाइफ रिहैबिलिटेशन कारखाना, झांसी के कर्मचारी लगे हैं। इसी तरह 4,762 लीटर सैनेटाइजर का उत्पादन भी इन्हीं कारखानों में किया जा रहा है। इसके अलावा एनसीआर की तरफ से रेलवे स्टेशन के आसपास रहने वाले मजदूरों को अब तक भोजन के करीब 23 हजार पैकेट भी वितरित किये जा चुके हैं। मालवीय ने बताया कि सामाजिक दूरी को बनाए रखते हुए आवश्यक सेवाओं को सुचारू रूप से चलाने के लिए उत्तर मध्य रेलवे में कई नयी प्रौद्योगिकियों का उपयोग किया जा रहा है। इस दिशा में आगरा मंडल रेलवे अस्पताल के रिसेप्शन सह पूछताछ में ‘टॉक बैक’ व्यवस्था प्रदान की गयी है। यह व्यवस्था माइक्रोफोन और स्पीकर की मदद से संचार में आसानी प्रदान करती है। शीशे की दीवार बनाकर सामाजिक दूरी के मानकों के पालन को सुनिश्चित किया जा रहा है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *