इस वजह से कपूर खानदान में अब नहीं मनाई जाएगी गणेश चतुर्थी

मुंबई, । कपूर खानदान में इस बार ‘गणपति बप्पा मोरया’ की गूंज नहीं सुनाई देगी. कपूर खानदान हर साल बहुत ही धूमधाम के साथ गणेश उत्सव मनाया करता था. लेकिन इस बार यह गूंज सुनाई नहीं देगी. कपूर खानदान हर साल आरके स्टूडियो में गणेश उत्सव का आयोजन करता था, जिसे बहुत ही भव्यता के साथ अंजाम दिया जाता था. लेकिन आरके स्टूडियो के बिक जाने के बाद, अब गणपति की धूम भी आरके स्टूडियो में नहीं गूंजेगी. लेकिन आरके स्टूडियो में भयंकर आग के बाद हुए नुकसान के बाद इसे बेच दिया गया था. रणधीर कपूर ने गणेश उत्सव को लेकर कहा है कि मेरे पिताजी राज कपूर ने आरके स्टूडियो में गणपति उत्सव मनाने की शुरुआत की थी, और अब उनके पास इतनी बड़ी प्रॉपर्टी नहीं है जिस पर वे गणेश उत्सव का आयोजन उसी तरह पर कर सकें.

गणेश चतुर्थी के सेलिब्रेशन को लेकर रणधीर कपूर ने कहा, ‘वह हमारे लिए आखिरी गणेश चतुर्थी सेलिब्रेशन था. आरके स्टूडियो ही नहीं रहा…तो कहां करेंगे? पापा ने 70 साल पहले यह परंपरा शुरू की थी और वह गणेश को बहुत प्यार भी करते थे, अब हमारे पास जगह ही नहीं है तो हम आरके स्टूडियो जैसी सेलिब्रेशन कहां करेंगे. हम बप्पा को बहुत प्यार करते हैं और हमारी उनमें श्रद्धा भी है, लेकिन मुझे लगता है कि हम इस परंपरा को जारी नहीं रख सकते हैं. ‘

आरके स्टूडियो में गणेश चतुर्थी सेलिब्रेशन गणेश चतुर्थी और होली का जश्न बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता रहा है. यह पूरे देश में प्रसिद्ध भी रहा है. लेकिन समय के साथ चीजें बदली हैं, और अब होली के बाद गणेश चतुर्थी भी नहीं होगी. गणेश चतुर्थी के दौरान आरके स्टूडियो में पंडाल लगाया जाता था, और यहां सारे दिन लोगों का तांता लगा रहा था. गणेश चतुर्थी के आखिरी दिन बप्पा को बहुत धूमधाम के साथ विसर्जित किया जाता था. रणधीर कपूर, राजीव कपूर, ऋषि कपूर और रणधीर कपूर इस महोत्सव में जोर शोर से हिस्सा लिया करते थे.

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *