imran khan

वॉशिंगटन, 02 अगस्त। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के अमेरिकी दौरे के एक हफ्ते बाद यहां के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी इन द्विपक्षीय संबंधों में नजर आई मिलनसारिता की व्याख्या करने के लिए “रिसेट” शब्द के प्रयोग से बच रहे हैं। अधिकारियों के मुताबिक यह दौरा दिखाता है कि दोनों देश साझा हितों वाले क्षेत्र में बहुत कुछ कर सकते हैं। विदेश मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी से जब पूछा गया कि खान के दौरे से पहले मीडिया के एक वर्ग ने खबर दी थी कि वे संबंधों में फिर से सुधार चाह रहे हैं तो उन्होंने कहा, “दोबारा से सुधार कहना भारी-भरकम बात होगी।” अधिकारी ने कहा, “मेरे विचार में यह दौरा दिखाता है कि हम जितना अधिक साझा हितों जैसे अफगानिस्तान में शांति जैसे मुद्दों पर काम करेंगे उतना ही व्यापक एवं प्रगाढ़ सहयोग के रास्ते खुलेंगे।” अधिकारी ने एक बयान पढ़ते हुए कहा कि दोनों देशों ने व्यापार में निवेश बढ़ाने के तरीके तलाशने पर चर्चा की। साथ ही बताया कि इस दौरे ने संबंधों को विस्तार दिया है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published.