वाशिंगटन, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार को कहा कि लंबे समय बाद अमेरिका के साथ पाकिस्तान की समझ बनी है और संबंधों को फिर से कायम किया है। अमेरिका के तीन दिवसीय दौरे पर आए खान ने सोमवार को ट्रंप से उनके ओवल कार्यालय में मुलाकात की। खान ने ट्रंप के पसंदीदा टीवी चैनल ‘फॉक्स न्यूज’ से कहा, ‘‘हम असल में समझ पर आधारित अपने संबंधों को फिर से कायम करना चाहते थे, ऐसा इसलिए कि चीजों को लेकर हमारा नजरिया समान है। हम अफगानिस्तान में शांति चाहते हैं। तालिबान को वार्ता की मेज पर लाने के लिए पाकिस्तान हर संभव मदद करेगा ताकि शांति कायम हो। मुझे लगता है कि आज हम उसे समझ पाए हैं।’’ खान ने ट्रंप के साथ बातचीत करते हुए व्हाइट हाउस में दो घंटे से ज्यादा वक्त गुजारे। उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि हम सचमुच में अब साझेदार हैं और हम दोनों अफगानिस्तान और पाकिस्तान में शांति चाहते हैं। शांति प्रक्रिया को आगे ले जाना सुनिश्चित करने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे।’’ एक सवाल पर इमरान खान ने कहा कि वह राष्ट्रपति ट्रंप को बिना लाग लपेट के बोलने वाला मानते हैं और वह घुमा फिराकर नहीं बोलते। खान ने कहा कि अफगानिस्तान को शांति की जरूरत है और तालिबान को राजनीतिक प्रक्रिया का हिस्सा बनना चाहिए। उन्होंने कहा कि तालिबान के साथ अब तक की वार्ता सार्थक रही है।

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.