Donald Trump

वाशिंगटन । अमेरिका का बजट घाटा अगले वित्त वर्ष में एक हजार अरब डॉलर के पार चले जाने की आशंका है। कांग्रेस के बजट कार्यालय ने बुधवार को यह अनुमान व्यक्त किया।उल्लेखनीय है कि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने चुनाव अभियान के दौरान न सिर्फ बजट को संतुलित करने बल्कि पूरा राष्ट्रीय कर्ज कम करने का वादा किया था।बजट कार्यालय के निदेशक फिलिप स्वागेल ने कहा, ‘‘देश का राजकोषीय परिदृश्य चुनौतियों भरा है। देश का कुल कर्ज पहले से ही ऐतिहासिक उच्च स्तर पर है और अब यह टिकाउपन की सीमा के पार हो रहा है।’’कांग्रेस के बजट कार्यालय ने बजट घाटे का पूर्वानुमान इस साल के लिये 63 अरब डॉलर और अगले दशक के दौरान 809 अरब डॉलर बढ़ने का अनुमान लगाया है। अमेरिका का वित्त वर्ष एक अक्टूबर से शुरू होता है। कार्यालय ने चालू वित्त वर्ष के लिये बजट घाटा 960 अरब डॉलर रहने का पूर्वानुमान व्यक्त किया है। इसके एक अक्टूबर से शुरू हो रहे अगले वित्त वर्ष में एक हजार अरब डॉलर के पार हो जाने का अनुमान है।स्वागेल ने कहा कि देश की आबादी के वृद्ध होते जाने तथा स्वास्थ्य एवं चिकित्सा क्षेत्र पर बढ़ते खर्च के कारण आने वाले दशकों में कुल कर्ज बढ़ेगा।उन्होंने कहा कि देश की वित्तीय स्थिति को पुन: टिकाउपन के रास्ते पर लाने के लिये सांसदों को कर बढ़ाना होगा तथा खर्च में कटौती करनी होगी।कार्यालय ने अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर का पूर्वानुमान भी कम कर दिया है। उसने कहा कि यह दर चालू वित्त वर्ष में 2.30 प्रतिशत रह सकती है जो अगले चार साल में औसत आधार पर 1.80 प्रतिशत पर आ जाएगी।बेरोजगारी दर के बारे में कार्यालय ने कहा कि यह 2020 के अंत तक मौजूदा 3.7 प्रतिशत के आस-पास रह सकती है तथा 2023 के अंत तक बढ़कर 4.60 प्रतिशत तक पहुंच सकती है।

Spread the love

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.