Migraine Headache

अगर माइग्रेन की समस्या से पाना है निजात तो करें ये योगासन

सामान्य सिर दर्द की तुलना में माइग्रेन से होने वाला सिर दर्द अधिक तीव्र होता है। माइग्रेन के दौरान अक्सर मिचली और चक्कर आने जैसी समस्या उत्पन्न होती है। माइग्रेन कुछ घंटों में भी ठीक हो सकता है या कुछ दिनों तक भी रह सकता है। माइग्रेन की समस्या में योग काफी लाभदायक होता है। चूंकि माइग्रेन का सबसे प्रमुख कारण तनाव होता है और योग तनाव को कम करने का काम करता है, इसलिए योग माइग्रेन से होने वाले दर्द को कम करने में ज्यादा असरकारक होता है।

बालासन(चाइल्ड पोज़): बालासन को करने से शरीर में लचीलापन आ जाता है। बालासन आपके नर्वस सिस्टम को शांत करने में और प्रभावित ढंग से माइग्रेन के दर्द को कम करने में मदद करता है। जिन लोगों के घुटनों में दर्द रहता है उन्हें इस आसन का अभ्यास नहीं करना चाहिए। सबसे पहले एक शांत जगह पर बैठ जाएं। अब पैर को मोड़कर एड़ियों के बल बैठ जाएं और अपने शरीर के ऊपरे हिस्से को जांघों पर टिका लें। इसके बाद अपने सिर को नीचे झुकाते हुए जमीन पर रख लें और अपने दोनों हाथों को पीछे की तरफ कर लें। अपने सांसो को नियंत्रित रखें।

सेतुबंधासन(ब्रीज पोज़): सेतुबंधासन आपके चिंता और तनाव को दूर करने में आपकी सहायता करता है। तनाव माइग्रेन का सबसे बड़ा कारण माना जाता है। इसके अलावा इस आसन को करने से आपकी मांसपेशियों में ताकत आती है जिससे आपके दर्द को राहत मिलती है। सबसे पहले पीठ के बल जमीन पर लेट जाएं। अपने दोनों पैरों को मोड़ते हुए सीधा रखें। दोनों पैरों के बीच कम से कम 10 से 12 इंच की दूरी रखें। अब अपने पीठ के निचले हिस्से को ऊपर की तरफ उठाएं। अपने दोनों हाथों को पीछे की तरफ लें जाएं और जमीन पर रखें।

अधो मुखा स्वानासना (डाउवर्ड फेसिंग डॉग पोज़): अधो मुखा स्वानासना जिसे हम वज्रासन भी कहते हैं, आपके दिमाग को शांत रखता है और आपके तनाव और डिप्रेशन को दूर रखने में मदद करता है। अधो मुखा स्वानासना हमारे मस्तिष्क में रक्त के प्रवाह को बढ़ाता है और सिरदर्द से राहत दिलाता है। इस आसन को करने के लिए सबसे पहले अपने हाथ और घुटनों को मिलाएं। फिर अपने नितंबों को ऊपर की ओर उठाएं और ध्यान रहें कि इस प्रक्रिया को करते वक्त आपके घुटने सीधे रहें। आपके दोनों हाथों की अंगुलियां जमीन पर होनी चाहिए।

सवासन(कॉर्प्स पोज़): सवासन करने से आपका ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है और आपकी नींद की समस्या भी दूर हो सकती है। यह आपको शारीरिक और मानसिक रूप से भी स्वस्थ रखने में आपकी मदद करता है। नींद की कमी भी माइग्रेन होने का बड़ा कारण है इसलिए सवासन माइग्रेन की समस्या को कम करने का एक असरकारक तरीका है। इस आसन को करने के लिए सबसे पहले जमीन पर पीठ के बल लेट जाएं। अपने दोनों हाथों को जमीन पर रख लें। ध्यान रहे कि आपके हाथ जमीन की तरफ हो। कम से कम 5 से 30 मिनट तक इसी अवस्था में रहें।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *